प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम 2021 | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

हमारा देश एक कृषि प्रधान देश है। देश की 70 प्रतिशत आबादी आज भी प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से कृषि पर निर्भर है। देश में आए दिन सूखाड़, बाढ़ या अन्य प्राकृतिक आपदाओं से किसानों की फसलें बर्बाद हो जाती हैं। इन आपदाओं के चलते कई बार किसानों के समक्ष भूखमरी जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाती है। कर्ज और फसलों के बर्बाद होने पर किसान आत्महत्या जैसे कदम उठाने को मजबूर हो जाते हैं। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो(NCRB) की एक रिपोर्ट के मुताबिक वर्ष 2017 में कृषि से जुड़े 10,655 लोगों ने आत्महत्या की है। एक और रिपोर्ट के मुताबिक भारत में प्रतिदिन औसतन 31 किसान आत्महत्या कर रहे हैं। ये आँकड़े किसानों की भयावह स्थिति को बताते हैं।

किसानों की इन्हीं समस्याओं को देखते हुए केंद्र सरकार ने 13 जनवरी 2016 को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) का शुभारम्भ किया। इस योजना के तहत बाढ़, सुखाड़, ओले, तेज बारिश, कीटों या अन्य प्राकृतिक आपदाओं के चलते फसलों को हुए नुकसान पर किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का प्रीमियम काफी कम रखा गया है, ताकि अधिक से अधिक किसान इस योजना का लाभ उठा सकें। खरीफ फसलों के लिए 2%, रबी फसलों के लिए 1.5% तथा वाणिज्यिक या बागवानी फसलों के लिए 5% प्रीमियम किसानों द्वारा भरी जाएगी जबकि शेष प्रीमियम सरकार द्वारा सब्सिडी के रूप में भरी जाएगी।इस योजना के तहत फसलों की प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान की स्थिति में किसान, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम कर सकते हैं।प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का क्रियान्वयन कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा किया जा रहा है। यह योजना संबंधित राज्य सरकारों के साथ मिलकर लागू की जाएगी।

आईए अब हम आगे प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के उद्देश्य, PMFBY के लिए आवेदन करने का तरीका, आवश्यक शर्तें तथा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम कैसे किया जाता है? इन सबके बारे में विस्तार से जानते हैं।

Pradhanmantri Kisan Maan Dhan Yojana |प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना(PMFBY) का उद्देश्य

  • फसलों का प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान की स्थिति में किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना।
  • किसानों में बढ़ती आत्महत्या की दर को रोकना।
  • किसानों को खेती के लिए नई तकनीकों व नवीन पद्वति के इस्तेमाल को बढ़वा देना।
  • जो किसान कम आय के चलते खेती छोड़ना चाहते हैं, उन्हें रोकना।
  • किसानों के लिए कम ब्याज दर पर ऋण की उपलब्धता सुनिश्चित करना।
  • किसानों को फसलों के नुकसान की से चिंतामुक्त करना।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से अप्लाई किया जा सकता है। ऑनलाइन फॉर्म भरने के लिए PMFBY की आधिकारिक वेबसाइट – https://pmfby.gov.in पर जा सकते हैं। अगर आप ऑफलाइन फॉर्म भरना चाहते हैं, तो नजदीकी बैंक में जाकर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का फॉर्म लेकर भर सकते हैं।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम करने के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो
  • आईडी कार्ड (जैसे- पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड आदि)
  • एड्रेस प्रूफ (जैसे- पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड, राशन कार्ड)
  • बैंक खाता पासबुक]
  • संबंधित अधिकारी द्वारा बुआई का प्रमाण-पत्र
  • खेत का खाता-खसरा नंबर व अपना मालिकाना हक को साबित करने के लिए प्रमाणपत्र
  • अगर खेत लीज पर लिया गया हो तो खेत मालिक के साथ हुए करार का प्रमाणपत्र, जिसमें खेत का खाता-खसरा नंबर स्पष्ट तरीके से लिखा हुआ हो।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana का लाभ लेने के लिए आवश्यक शर्तें

  •  फसल की बुआई के 10 दिनों के अंदर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए फॉर्म भरना जरूरी है।
  • इस योजना का लाभ तभी मिलेगा जब किसी प्राकृतिक आपदा की वजह से फसल का नुकसान हुआ हो।
  • अगर फसल काटने के 14 दिनों के भीतर भी किसी प्राकृतिक आपदा के कारण नुकसान हुआ हो तब भी किसान प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम कर सकते हैं।
  • खरीफ फसल के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 31 जुलाई है जबकि रबी फसल के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 31 दिसंबर निर्धारित की गई है। अंतिम तिथि के संबंध में PMFBY पोर्टल, CSC केंद्र या संबंधित कृषि अधिकारी से जानकारी ली जा सकती है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करने का तरीका

  • सबसे पहले PMFBY की आधिकारिक वेबसाइट https://pmfby.gov.in पर जाएं।
  • यहाँ Farmer Corner पर क्लिक करें।
  • अगर आप पहली बार आवेदन कर रहे हैं तो Guest Farmer पर क्लिक करें।
  • अब एक नया रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा। इसमें पूछी गई सभी जानकारियाँ सही-सही भरें।
  • सभी जानकारियां भरने के बाद Create User पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपका अकाउंट वेबसाइट पर बन जाएगा।
  • इसके बाद आप अपने अकाउंट से लॉगइन करके प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) के लिए फॉर्म भर सकते हैं।
  •  PMFBY का फॉर्म सही-सही भरने के बाद आपको Submit पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपकी स्क्रीन पर Successfull का एक मैसेज दिखेगा।
  • फॉर्म सबमिट होने के बाद आप अपने आवेदन की वर्तमान स्थिति होम पेज पर Application Status वाले टैब में जाकर देख सकते हैं।
  • आप चाहें तो प्ले स्टोर से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना एप्लिकेशन डाउनलोड करके भी PMFBY के लिए अप्लाई कर सकते हैं।
  • Note – PMFBY के लिए अप्लाई करते समय सभी जानकारियाँ सही तरीके से भरें। इसमें किसी तरफ की गलतियाँ नहीं होनी चाहिए। इससे भविष्य में आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम करने में कोई परेशानी नहीं होगी।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana क्लेम करने का तरीका

अगर आपने PMFBY के तहत अपने फसल का बीमा करवाया है और बीमा अवधि के दौरान फसल का प्राकृतिक आपदा की वजह से क्षति हो जाती है तो आप प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम करने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करें

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम करने के लिए फसल के नुकसान की जानकारी संबंधित बैंक, इंश्योरेंस कंपनी या PMFBY से संबंधित अधिकारी को दें।
  • नुकसान की जानकारी आप PMFBY के टॉल फ्री नंबर पर भी दे सकते हैं।
  • आपको ये सुनिश्चित करना होगा कि फसल के नुकसान की जानकारी जल्द से जल्द इंश्योरेंस कंपनी के अधिकारी तक पहुंचे
  • इसके बाद 72 घंटे के अंदर इंश्योरेंस कंपनी नुकसान की जाँच के लिए एक अधिकारी को नियुक्त करेगा।
  •  अधिकारी 10 दिनों के अंदर फसल के नुकसान की जाँच करके बीमा राशि का निर्धारण करेगा।
  • सभी प्रक्रिया पूरी होने के पश्चात 15 दिनों के भीतर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम की राशि बैंक अकाउंट में आ जाएगी।
  • अगर तय समय के अंदर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम की राशि आपके बैंक अकाउंट में नहीं आती है तो आप इसके लिए संबंधित इंश्योरेंस कंपनी के पास शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं।
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्लेम के संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए इस हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करें :- 01123382012 / 01123381092

Leave a Comment