Pradhanmantri Matritva Vandana Yojana | PMMVY Benefits

Pradhanmantri Matritva Vandana Yojana की शुरूआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1 जनवरी 2017 को की थी। इस योजना के तहत आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं को पहली बार गर्भ धारण पर सरकार द्वारा 6000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

इस लेख में आगे हम आपको बताएंगे कि Pradhanmantri Matritva Vandana Yojana योजना क्या है? इसकी विशेषताएं व लाभ क्या हैं? प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के उद्देश्य क्या हैं? इस योजना का लाभ लेने के लिए आवश्यक योग्यताएं क्या हैं? तथा इस योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है?

Pradhanmantri Matritva Vandana Yojana

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई एक ऐसी योजना है जिसके तहत पहली बार गर्भधारण करने वाली गरीब महिलाओं को 6000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इस योजना का संचालन महिला और बाल विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा किया जाता है।

Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana के उद्देश्य क्या हैं?

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का उद्देश्य पहली बार गर्भधारण करने वाली गरीब व मजदूरी करने वाली महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करना है, ताकि वह गर्भावस्था के दौरान उचित स्वास्थ्य सुविधाएं व अच्छा खान-पान प्राप्त कर सके। इसका लक्ष्य नवजात शिशुओं की मृत्यु दर को घटाना तथा बच्चे को कुपोषण से बचाना है।

PMMVY Benefits

  • इस योजना के तहत आवश्यक योग्यता पूरी करने वाली महिलाओं को तीन किश्तों में कुल 6000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।
  • पहली किश्त 1000 रूपये पंजीकरण के समय, दूसरी किश्त 2000 रूपये छह माह के अंदर प्रयोगशाला में गर्भवती महिला का जांच करवाने पर तथा तीसरी किश्त 2000 रूपये बच्चे के जन्म पंजीकरण करवाने पर मिलेंगे। इसके अलावा शेष 1000 रूपये प्रसव के समय दिए जाएंगे।
  • इस योजना का लाभ कमजोर वर्ग की उन गर्भवती महिलाओं को होगा जो आर्धिक स्थिति कमजोर होने की वजह से गर्भावस्था के दौरान अपनी स्वास्थ्य व खानपान पर ठीक से ध्यान नहीं दे पाती है।
  • इस योजना की राशि DBT के माध्यम से लाभर्थी के बैंक अकाउंट में सीधे भेज दी जाती है।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ लेने के लिए पात्रता

  • गर्भवती महिला की आयु न्यूनतम 19 वर्ष हो।
  • आवेदिका पहली बार गर्भधारण कर रही हों।
  • गर्भवती महिला भारत के किसी भी राज्य की नागरिक हो।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • गर्भवती महिला व उसके पति का आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • वैध पहचान पत्र
  • राशन कार्ड
  • बैंक खाता
  • बच्चे के जन्म के बाद उसका जन्म प्रमाणपत्र

Pradhanmantri Matritva Vandana Yojana के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया :

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से आवेदन किया जा सकता है। ऑफलाइन आवेदन के लिए गर्भवती महिला को नजदीकी आंगनबाड़ी या स्वास्थ्य केंद्र से संपर्क करना होगा। इन केंद्रों में इस योजना से संबंधित तीन फॉर्म मिलेंगे। आवेदन फॉर्म को अच्छी तरह से भरकर उसके साथ जरूरी दस्तावेजों की फोटोकॉपी के साथ उसी केंद्र में जमा करना होगा, जहाँ से आपने आवेदन फॉर्म लिया था। फॉर्म भरने से संबंधित जानकारी आप आंगनबाड़ी या स्वास्थ्य केंद्र में भी प्राप्त कर सकते हैं।

Pradhanmantri Matritva Vandana Yojana के फॉर्म को आप महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट https://wcd.nic.in पर जाकर भी डाउनलोड कर सकते हैं।

Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://www.pmmvy-cas.nic.in पर जाएं।
  • यहाँ नीचे आपको Beneficiary Login का एक विकल्प दिखेगा, इसपर क्लिक करें।
  • अब नए पेज पर For Registering New User के सामने ‘Click Here’ पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने एक फॉर्म खुलेगा जिसमें आपको लाभार्थी का नाम, मोबाईल नंबर, ईमेल, ओटीपी व कैप्चा कोड तथा पासवर्ड डालना है। अंत में Register पर क्लिक करें।
  • इसके बाद मांगी गई सभी जरूरी डॉक्युमेंट्स को अपलोड करके Submit करें।
  • इस तरह से आप प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए आसानी से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • एक बाद पंजीकरण हो जाने के बाद आप कभी भी https://www.pmmvy-cas.nic.in पर जाकर लॉगिन कर सकते हैं।
  • आप चाहें तो CSC सेंटर जाकर भी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Pradhanmantri Matritva Vandana Yojana Helpline Number

इस योजना से संबंधित किसी अन्य जानकारी प्राप्त करने के लिए या आवेदन करने में कोई परेशानी होने पर आप नीचे दिए गए फोन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं :
• Pradhanmantri Matritva Vandana Yojana Helpline Number : 011-23382393

Leave a Comment